अकैडमी अवॉर्ड के नॉमिनी मिक्की रौर्के, अभिनेत्री जनेल पैरिश और प्रेम सिंह फ़िल्म “टाइगर” के प्रमोशन के सिलसिले में भारत आने की है संभावना

अकैडमी अवॉर्ड के नॉमिनी मिक्की रौर्के, अभिनेत्री जनेल पैरिश और प्रेम सिंह के भारत आने की संभावना है, फ़िल्म “टाइगर” के प्रमोशन के सिलसिले में, जिसे प्रस्तुत करेंगे निर्माता दीपक सिंह।

दीपक सिंह, जो “सूरमा” के प्रमुख निर्माता रह चुके हैं, अब एक और स्पोर्ट्स बायोपिक पेश करने के लिए तैयार हैं, पर इस बार यह ‘बॉक्सिंग’ पर आधारित होगी।

दीपक सिंह पेश करेंगे हॉलीवुड की फ़िल्म “टाइगर” एक बॉक्सिंग ड्रामा, जो प्रदीप सिंह नागरा की सच्ची कहानी से प्रेरित होगी। एक व्यवहारिक व्यक्ति जिन्हें उनकी धार्मिक मान्यताओं के कारण मुक्केबाजी के खेल से प्रतिबंधित कर दिया गया था।

आने वाले ऑस्टिन फ़िल्म फेस्टिवल, सैन डिएगो फ़िल्म फेस्टिवल और न्यू ऑरलियंस फ़िल्म फेस्टिवल के लिए आधिकारिक तौर पर चुनी गई फ़िल्म “टाइगर” जल्द ही इंडियन स्क्रीन पर हिट होगी।

“टाइगर” प्रदीप सिंह नागरा की असल कहानी से प्रेरित है, जो एक सिख आदमी हैं, जिन्हें अपनी धार्मिक मान्यताओं के कारण बॉक्सिंग के खेल से प्रतिबंधित कर दिया गया था। “टाइगर” पूरी तरह से प्रदीप के जीवन और उनके सहायक– कोच और मेंटॉर पर आधारित है।

प्रदीप सिंह नागरा के किरदार में नजर आएँगे प्रेम सिंह जिन्होंने माइकल पुग्लीज़ के साथ स्क्रीनप्ले भी
लिखा है।

दीपक सिंह ने पहली बार रोक्को पुग्लीज़ से यह कहानी सुनी थी, जो फ़िल्म “टाइगर” के निर्माता में से एक हैं,”लोग फ़िल्म से जुड़ जाएँगे, क्योंकि इसमें एक इंसान की भावनात्मक लड़ाई है, वह अपने स्वयं के परिप्रेक्ष्य में एक सूरमा है, जिन्होंने अपने अधिकारों के लिए लड़ाई की और कैनाडा के कोर्ट में अपना केस भी जीता”।
राइटर :ममता माली

Related posts

Leave a Comment