बैंक अक्कौन्ट वेरिफिकेशन बता कर उड़ाए पैसे।

महराष्ट्र, पुणे से शनिवार को आरोपी बिपिन महतो(३०) को पुलिस ने गिरफ्तार किया। बिपिन महतो पर आरोप है की उसने नवंबर २०१८ में एक डॉक्टर के बैंक अकाउंट से २ लाख ९० हजार रुपये की जालसाजी की थी। आरोपी बिपिन महतो मुंबई के एक प्राइवेट फर्म में काम करता है। वेरिफिकेशन के नाम ने डॉक्टर को लिंक सेंड की डॉक्टर ने लिंक क्लिक किया और बैंक अकाउंट से २ लाख ९० हज़ार अलग-अलग खातों में ट्रांसफर हो गए।
वारदात का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया की बिपिन ने २१ नवंबर को डॉक्टर को फ़ोन किया और खुदको बैंक का अधिकारी बताते हुए डॉक्टर के बैंक अकाउंट नंबर का वेरिफिकेशन करने के लिए एक लिंक डॉक्टर को सेंड किया। जब डॉक्टर ने वेरिफिकेशन के लिए जैसे ही लिंक को क्लिक किया तो २ लाख ९० हज़ार अकाउंट से काट गए। डॉक्टर को जब एस.ऍम.एस बैंक से आया तभी इसकी जानकारी हुयी। डॉक्टर ने वापस बिपिन ने कांटेक्ट करने की कई कोशिश नाकाम होने के बाद पुलिस स्टेशन में एफ.आइ.आर दर्ज किया। पुलिस कि जांच बाद बिपिन महतो को शनिवार के दिन पुणे से गिरफ्तार किया गया।

Related posts

Leave a Comment