मुंबईकरों को अब मिलेगा 10% कम पानी

मुंबई – बीएमसी ने झीलों में घटते जलस्तर के फलस्वरूप पानी कटौती की अधिकृत घोषणा कर दी। मुंबई की आपूर्ति में अब 10 प्रतिशत की कटौती की जाएगी, जबकि पानी आपूर्ति के समय में 15 प्रतिशत कमी की जाएगी। यानी आपके घरों में कम समय तक पानी आएगा। इस संदर्भ में स्थायी समिति की बैठक में घोषणा की गई। प्रशासन ने अगले वर्ष जुलाई अंत तक आपूर्ति की व्यवस्था करने की दृष्टि से यह फैसला लिया। यह फैसला घरों, दुकानों और उद्योग जगत सभी पर लागू होगा। बीएमसी की ओर से ठाणे और भिवंडी महानगरपालिका को आपूर्ति किए जाने वाले पानी आपूर्ति में 10 प्रतिशत की कटौती होगी। बीएमसी अब कहीं भी अतिरिक्त कनेक्शन या पाइप की क्षमता बढ़ाने के आवेदन प्रक्रिया पर कोई कार्य नहीं करेगी। हालांकि, नए कनेक्शन दिए जाते रहेंगे। इससे पहले भी बीएमसी पर कम आपूर्ति कर ‘अघोषित’ पानी कटौती का आरोप लगता रहा है।
बीएमसी ने 1 नवंबर को अपनी समीक्षा में कटौती को अपरिहार्य बताया। कटौती की अधिकृत घोषणा के लिए दिवाली के उत्सव खत्म होने के इंतजार में प्रशासन रुका हुआ था।
प्रशासन ने पानी के संकट को देखते हुए मुंबईकरों से पानी बचाने की अपील की है।
बारिश का मौसम खत्म होते ही मुंबई में पानी की कटौती शुरू हो गई। साल भर पानी के नियोजन के लिहाज से यह जरूरी भी है। मनपा ने मुंबई की इमारतों के लिए वॉटर हार्वेस्टिंग योजना की घोषणा की थी। उद्देश्य यह था कि वर्षा का पानी पक्की नालियों से होते हुए समुद्र में बहने से रोका जाए, उसे जमीन में रिसने दिया जाए। योजना अच्छी थी, मगर कागजों तक सीमित होकर रह गई।

Related posts

Leave a Comment