राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद पर अगली सुनवाई १० जनवरी को होगी

राम जन्मभूमि विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अगली सुनवाई १० जनवरी को होगी, इस मामले को नेतृत्व कर रही दो जजों की बेंच ने तीन जजों की बेंच का गठन कर १० जनवरी को अगली सुनवाई की घोषणा की है। ६ या ७ जनवरी को बेंच में शामिल जजों के नामों की घोषणा कर दी जाएगी ।

इस पर कांग्रेस के नेता फारूक अब्दुल्लाह ने ट्वीट कर कहा है कि, “भगवान राम से किसी को बैर नहीं है और ना होना चाहिए। कोशिश करनी चाहिए सुलझाने की और बनाने की। जिस दिन यह हो जाएगा मैं भी एक पत्थर लगाने जाऊंगा जल्दी समाधान होना चाहिए।”

अब्दुल्लाह ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहां कि पिछले ५ सालों में उन्होंने कुछ भी नहीं किया और मंदिर का विवाद भी कुर्सी पर बने रहने के लिए उठाया गया है।

इसी के चलते कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि, राम मंदिर को लेकर सुप्रीम का जो भी फैसला होगा वह मान्य होगा।

वहीं वकील हरीनाथ राम की तरफ से दाखिल की गई पी.आई.एल को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है, जिस में राम मंदिर के विवाद पर रोजाना सुनवाई की मांग की गई थी।
रिपोर्ट : ममता माली

Related posts

Leave a Comment